चट्टान किसे कहते हैं ?उदाहरण सहित स्पष्ट कीजिए|

नमस्कार दोस्तों हम इस लेख में यह पढ़ने वाले हैं की चट्टान किसे कहते हैं एवं चट्टानों के प्रकार एवं उनकी विशेषता आप इसलिए को शुरू से लेकर अंत तक जरूर पढ़े ताकि आपको चट्टान से संबंधित कोई भी प्रश्न ना छूटे|

चट्टान किसे कहते हैं ?

चट्टाने विभिन्न प्रकार के खनिजों का मिश्रण होती है अर्थात वे समस्त पदार्थ जो धातुए नहीं है, आधात्विक है चट्टानें कहलाती हैं |चट्टान अत्यंत कठोर जैसे- ग्रेनाइट से लेकर अत्यंत मुलायम जैसे – क्ले होती हैं |

वास्तव में चट्टानें विभिन्न खनिजों का समूह होती हैं लेकिन बलुआ पत्थर, चूना पत्थर ,संगमरमर इत्यादि ऐसी चट्टानें है जिनका निर्माण एक ही प्रकार के खनिज से हुआ है |

भू वैज्ञानिकों द्वारा वर्तमान में लगभग 2000 से अधिक प्रकार के खनिजों की जानकारी प्राप्त की जा चुकी है लेकिन भूपटल के निर्माण में 24 खनिज अत्यंत महत्वपूर्ण माने जाते हैं| इन्हें खनिजों को चट्टान निर्माता खनिज कहा जाता है |वास्तव में इनमें से भी मात्र 6 प्रकार के खनिज ही प्रधानता में पाए जाते हैं जैसे क्वार्टर्स ,फेल्सपार, पायरासिंस , एलफीबॉल्स,अभ्रक एवं ओलिविन |

पृथ्वी की भूपर्पटी में लगभग 110 प्रकार के तत्व पाए जाते हैं लेकिन भू पर्पटी के निर्माण में 8 तत्वों की प्रधानता है| चट्टानों का अध्ययन पेट्रोलॉजी के अंतर्गत किया जाता है जिसमें खनिजों की संरचना ,बनावट, गठन स्रोत, प्राप्तिस्थल एवं शैलो में परिवर्तन के अध्ययन के साथ-साथ विभिन्न प्रकार के चट्टानों के मध्य अंतर संबंध का भी अध्ययन किया जाता है |

इस प्रकार चट्टानों की विशेषताओं का विविध आयामों में अध्ययन करने से उद्योगों के विकास, परिवहन मार्गों के विकास फिर से इतिहास के संदर्भ में तार्किक निर्णय लिए जा सकते हैं अतः चट्टानों का अध्ययन अपरिहार्य है |

निर्माण एवं विशेषताओं के आधार पर चट्टानें तीन प्रकार की होती हैं-

1- आग्नेय चट्टान

2- अवसादी चट्टान

3-रूपांतरित चट्टान

आग्नेय चट्टान किसे कहते हैं ?

आग्नेय चट्टानों का निर्माण गर्म तप्त मैग्मा अथवा लावा के शीतलीकरण एवं जमाव से हुआ है| पृथ्वी की उत्पत्ति एवं विकास के क्रम में जगह-जगह पर ज्वालामुखी के उद्गार के परिणाम स्वरुप लावाअथवा मैग्मा के निष्कासन एवं उनके शीतलीकरण तथा जमाव से इन चट्टानों का निर्माण हुआ है अतः इन्हें प्राथमिक चट्टानें भी कहते हैं क्योंकि अन्य समस्त चट्टान के निर्माण हेतु प्रत्यक्ष अथवा अप्रत्यक्ष रूप से प्राथमिक आधार आग्नेय चट्टान ही हैं |

अवसादी चट्टान किसे कहते हैं ?

आग्नेय तथा रूपांतरित चट्टानों के अनाच्छादन से निर्मित अवसादो के जमाव से अवसादी चट्टानों का निर्माण होता है|

रूपांतरित या कायंतरित चट्टान किसे कहते हैं ?

आग्नेय या अवसादी चट्टानों के तापमान या दबाव दोनों में परिवर्तन के सम्मिलित प्रभाव के परिणाम स्वरुप इन चट्टानों के भौतिक एवं रासायनिक विशेषताओं में परिणाम स्वरुप नवीन प्रकार की चट्टानों को रूपांतरित चट्टान कहते हैं| वास्तव में ताप एवं दाब दोनों के प्रभाव से तथा उच्च तापमान की स्थिति में वाष्प एवं जल से रासायनिक क्रिया के परिणाम स्वरुप अवसादी एवं आग्नेय चट्टानों में बड़े पैमाने पर परिवर्तन होता है इससे रूपांतरित चट्टानों का निर्माण होता है |

Leave a comment